5 सहायक, भारतीय महिला बैंक का एसबीआई में विलय


पांच सहायक और भारतीय महिला बैंक (बीएमबी) 1 अप्रैल, 2017 को भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) का हिस्सा बन गए। एसबीआई अब दुनिया के 50 शीर्ष बैंकों में शामिल हो गया है। इस विलय के साथ भारतीय स्टेट बैंक के खाताधारकों की कुल संख्या 37 करोड़ और उसकी शाखाओं का नेटवर्क 24,000 के आंकड़े को छू जाएगा। देशभर में उसके 59,000 एटीएम होंगे। विलय के बाद बैंक की जमा राशि 26 लाख करोड़ रुपये से अधिक और कर्ज पर दी गई राशि 18.50 लाख करोड़ रुपये होगी।




स्टेट बैंक ऑफ बीकानेर, स्टेट बैंक ऑफ हैदराबाद, स्टेट बैंक ऑफ मैसूर, स्टेट बैंक ऑफ पटियाला और स्टेट बैंक ऑफ त्रावणकोर तथा भारतीय महिला बैंक का एसबीआई में विलय पहली अप्रैल से प्रभावी हो गया।

बैंक द्वारा जारी एक वक्तव्य के मुताबिक, छह बैंकों के इस व्यापक विलय के साथ एसबीआई ने एक बार फिर बदलाव और बैंकों में देश का अग्रणी बैंक होने व मूल्यों के सृजन में अपनी क्षमता को साबित किया है। इस विलय के साथ एसबीआई संपत्ति के मामले में दुनिया के शीर्ष 50 बैंकों में शामिल हो गया है। बैंक की कुल ग्राहक संख्या 37 करोड़ हो गई है।

इस विलय के साथ स्टेट बैंक संपत्ति के आधार पर दुनिया के 50 शीर्ष बैंकों की जमात में शामिल हो गया है।

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *