मोबाइल एप्प/पोर्टल संबंधी परीक्षापयोगी सामान्य ज्ञान


मोबाइल एप्प, वेब पोर्टल और एंड्रॉयड संबंधी सामान्य ज्ञान (Mobile App, Web Portal and Android Questions and Answers in Hindi): आजकल सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के सामान्य ज्ञान के प्रश्न पत्र में मोबाइल एप्प पर एक दो प्रश्न अवश्य पूछे जाते है। यह एप्प सरकारी योजनाओं या सरकारी विभाग आदि से संबंधित होते है। इसी को ध्यान में रखकर यहां बहुत ही उपयोगी सरकारी एप्प की सामान्य जानकारी दी गई है। जिसपर कई प्रश्न पूछे जाने की संभावना है। इसलिए इनका अध्ययन करना आपके लिए बहुत ही जरूरी हो जाता है।


तरंग : केन्द्रीय विद्युत मंत्रालय का पोर्टल है जिसके द्वारा आने वाली ट्रांसमिशन परियोजनाओं पर नजर रखी जा सकती है।
cVIGIL एप्प : भारत के निर्वाचन आयोग द्वारा विकसित किया गया है। यह एक यूजर फ्रेंडली एप्प है जिसे आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की सूचना देने के लिए बनाया गया है। इस एप्प के माध्यम से कोई भी व्यक्ति आदर्श आचार संहिता लागू करने के दौरान इसके उल्लंघन की सूचना चुनाव आयोग तक पहुंचा सकता है।
KIMIC : खादी और ग्रामोद्योग आयोग (KVIC) ने खादी इंस्टीट्यूशन मैनेजमेंट एण्ड इंफॉर्मेशन सिस्टम (KIMIC) नामक अपने स्वदेशी और एकल एकीकृत ई-मार्केटिंग प्लेटफॉर्म लांच किया है। सिस्टम का प्रयोग खादी और ग्रामोद्योग उत्पादों की ब्रिकी और खरीद के लिए देश मे कहीं से भी एक्सेस किया जा सकता है।
आई हरियाली एप्प: पंजाब सरकार ने लांच किया है जिसका उद्देश्य प्रदूषण से पर्यावरण से बचाने के लिए लोगों को अधिक पौधे लगाने के लिए प्रोत्साहित करना है।
आभार आपकी सेवा का : छत्तीसगढ़ में राज्य के पेंशनभोगियों के लिए पोर्टल एवं एप्प।
ई-सनद : विदेश जाने वाले लोगों को डिजिटली दस्तावेज प्रमाणन के लिए ई-सनज आरम्भ किया गया है। यह विदेश मंत्रालय की पहल है।
ई-साथ एप्प : उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा 20 आवश्यक सेवाओं जैसे–जन्म, मृत्यु, आय, जाति, निवास प्रमाण-पत्र इत्यादि को जनता तक आसान पहुंच के लिए लांच किया गया है।
उज्हावन (Uzhavan अर्थात् किसान) एप्प : तमिलनाडु सरकार द्वारा किसानों के लिए।
उत्तम एप्प : कोयले की गुणवत्ता जांचने हेतु (UTTAM-Unlocking Transparency by Third Party Assessment of Mined Coal)।
उद्यम संगम : MSME क्षेत्र से सम्बन्धित सभी सरकारी पहलों के तालमेल को मजबूत करने की दिशा में एक कदम है।
उमंग : केन्द्र, राज्य और यहां तक कि स्थानीय निकायों की ई-सरकारी सेवाओं तक मोबाइल के माध्यम से पहुंचने का साधन है उमंग मोबाइल एप्स।
कोयल मित : यह कोयला मंत्रालय का वेब पोर्टल है जिसका उद्देश्य घरेलू कोयला के उपयोग में लचीलापन लाना है।
'खान प्रहरी' एप्प : अवैध कोयला खनन जैसे रैट होल माइनिंग (जब भूमि पर छोटे क्षेत्रफल के गड्ढे बनाकर खनन कार्य किया जाए, तो इसे रैट होल माइनिंग कहते हैं, राष्ट्रीय हरित अधिकरण ने जल प्रदूषण एवं जलीय प्रजाति की मृत्यु के चलते इसे अवैध घोषित किया है)। चोरी आदि से सम्बन्धित किसी भी गतिविधि की रिपोर्टिंग के लिए एक उपकरण है।
चरक एप्प : उत्तर प्रदेश ने गांवों में महानगरों जैसी स्वास्थ्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के उद्देश्य से चरक एप्स का शुभारम्भ किया।
जन-सुनवाई पार्टल : उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने अपने आवास पर 'जन-सुनवाई' नामक शिकायत पोर्टल और मीडिया हेल्पलाइन की शुरूआत की इसमें सूचना एक जगह एकत्र होगी जिसने उन तमाम चीजों पर मॉनिटर करके जनता को राहत पहुंचाई जा सकेगी।
जीएसटी वेरीफाई एप्प : केन्द्रीय अप्रत्यक्ष कर और सीमा शुल्क बोर्ड (CBIC) ने उपभोक्ताओं के हितों की रक्षा के लिए 'जीएसटी वेरीफाई' (GST Verify) एप्स। यह एंड्रायड ऐप है, जो यह सत्यापित करेगा कि क्या उपभोक्ता से जीएसटी एकत्र करने वाला व्यक्ति इसे एकत्र करने योग्य है या नहीं।
तरंग संचार : दूरसंचार विभाग ने मोबाइल टावर एवं ई.एम.एफ. उत्सर्जन के अनुपालन से सम्बन्धित सूचनाओं को साझा करने के लिए तरंग संचार नामक वेब पोर्टल लांच किया है।
ताम्र पोर्टल : केन्द्री खान मंत्रालय का पोर्टल है। यह भारत में खनन गतिविधियों को बढ़ावा देगा।
दिव्यांग सारथी : केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं सशकतीकरण मंत्रालय द्वारा दिव्यांग जनों को आसानी से सूचनाएं उपलब्ध कराने के लिए यह ऐप्प आरम्भ किया गया है।
दीक्षा : शिक्षकों को अपनी जीवन शैली डिजिटल बनाने के लिए केन्द्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा दीक्षा पोर्टल लांच किया गया है।


नक्शे : केन्दीय विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी तथा भू-विज्ञान मंत्रालय द्वारा लांच किया गया वेब पोर्टल है। इसे सर्वे आॅफ इण्डिया की 250वें स्थापना दिवस पर लांच किया गया।
निदान : राजस्थान सरकार ने अनुमानित निदान और मौसमी और गैर साथ-साथ के बीमारियों संक्रमणीय-विशिष्ट क्षेत्रों में पाए जाने वाले बीमारियों की निगरानी के लिए 'निदान' सॉफ्टवेयर लांच किया है।
पीपल फर्स्ट : आंध्र प्रदेश सरकार द्वारा आरम्भ किया गया मोबाइल एप्स है जो लोगों को शासन के बारे में वास्तविक समय सूचना देकर उन्हें सशक्त करेगा।
पेंसिल : बाल श्रम निरोधक पोर्टल है। इसे केन्द्रीय श्रम एवं नियोजन मंत्रालय द्वारा लांच किया गया।
प्रतिबिम्ब : कर्नाटक ने सरकार की उपलब्धियां बताने एवं प्रशासन की दक्षता में सुधार हेतु व्यापक वेब मंच ''प्रतिबिम्ब'' की शुरूआत की है।
प्राप्ति : केन्द्रीय ऊर्जा मंत्रालय ने वेब पोर्टल तथा 'प्राप्ति' नामक एप्प (PRAAPTI-Payment Ratification and Analysis in Power Procurement for Bringing Transparency in Invoicing of Generators) लांच किया है। 'प्राप्ति' एप्प तथा वेब पोर्टल बिली खरीद में बिजली उत्पादकों और बिजली वितरण कम्पनियों के बीच पारदर्शिता लाने के लिए विकसित किया गया है।
प्रियासॉफ्ट : यह पंचायती राज संस्थान लेखा सॉफ्टवेयर है, इसे ई-पंचायत मिशन मोड प्रोजेक्ट के तहत लांच किया गया है।
बंधन तोड़ : यह बिहार सरकार का एंड्रोयाड आधारित मोबाइल एप्लिकेशन है जिसका उद्देश्य बाल विवाह, दहेज प्रथा एवं लैंगिक असमानता के खिलाफ लोगों को जागरूक करना है।
मेरिट : विद्युत मंत्रालय का वेब पोर्टल है। राज्यों द्वारा उत्पादित बिजली का मेरिट आॅर्डर निर्माण एवं आधारिक संरचना कच्चा माल ई-कॉमर्स प्लेटफार्म है।
राजधरा एप्प : राजधरा मोबाइल एप्स राजस्थान सरकार द्वारा जिला स्वास्थ्य संकेतकों के आॅनलाइन निरीक्षण हेतु निर्मित किया गया है।
शगुन : मानव संसाधन विकास मंत्रालय द्वारा 'सर्व शिक्षा अभियान' के सतत विकास हेतु शगुन वेब पोर्टल शुरू किया गया है।
समाधान : यह चुनाव आयोग का मोबाइल एप्स है जहां राजनीतिक दल, नागरिक, चुनाव लड़ रहे उम्मीदवार कोई शिकायत दर्ज कर सकते हैं या सुझाव दे सकते हैं।
सम्पर्क : MSME मंत्रालय का एक पोर्टल है।
साथिया सलाह : स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने किशोरों को उपयुक्त ज्ञान प्रदान करने के लिए साथिया सलाह मोबाइल एप्प की शुरूआत की।
साथी एप्स : अमरनाथ यात्रियों के सुरक्षित यात्रा और सहायता हेतु CRPF का एप्स।
सुविधा : चुनाव आयोग का एप्स, जहां राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि उम्मीदवार एवं चुनाव एजेंट चुनावी उद्देश्यों के लिए आवेदन कर सकते हैं।
सेवा एप्स : सरल ईंधन वितरण ऐप्लिकेशन (SEVA : Saral Eindhan Vitaran Application) का शुभारम्भ किया गया। यह एप्स बिजली उपभोक्ताओं के लिए शुरू किया गया है।
स्वास्थ्य सेवा दर्पण एप्स : बिहार स्वास्थ्य मंत्रालय एवं NGO केयर इण्डिया के सहयोग से स्वास्थ्य सेवाओं को मॉनिटर करने के उद्देश्य से लांच किया गया है।
हमराज : भारतीय सेना ने अपने सेवारत् जवानों को अपनी पोस्टिंग एवं प्रोन्नति से सम्बन्धित सूचनाओं की प्राप्ति के लिए हमराज नामक मोबाइल एप्स लांच किया है।
हरपथ : यह हरियाणा सरकार का मोबाइल एप्स है जिसमें लोग सड़कों की स्थिति के बारे में राज्य सरकार को जानकारी दे सकते हैं।
 

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *