Electrician Questions Answers for RRB Loco Pilot, ITI & Interview

Electrician Questions and Answers in Hindi – हम यहां इलेक्ट्रीशियन के प्रश्न और उत्तर से सम्बन्धित महत्वपूर्ण प्रश्नो को लेकर आए है, जो ज्यादातर परीक्षा मे पूछा जाता है, इन प्रश्नो को ध्यान से समझ ले जिससे किसी भी परीक्षा मे अगर यह प्रश्न पूछे जाए तो निश्चिन्त होकर आप उनका उत्तर दे सके। आप जानते होगें कि बिजली से चलने वाले किसी भी यंत्र जैसे पंखा, फ्रीज, TV, मोटर तथा अन्य वे सभी वस्तु जिनमे बिजली का उपयोग होता है, की मरम्मत एवं निर्माण करने वाले व्यक्ति को इलैक्ट्रीशियन कहते हैं। RRB Loco Pilot, ITI आदि परीक्षाओं के साथ ही Interview के लिए उपयोगी यह प्रश्न श्रंखला अवश्य पढ़ ले।


1. विघुतरंजन प्रक्रिया के लिए आवश्यक विद्युत सप्लाई होती है– डी.सी.
2. मरकरी वाष्प लैम्प की औसत आयु क्या होती है? – 3000 घंटे
3. इल्यूमिनेशन की तीव्रता किससे नापी जाती है? – ल्यूमेन/स्टिरेडियन
4. सामान्य प्रकार का वोल्टमापी मापता है, ए.सी. का– R.M.S. मान
5. किसी चालक/प्रतिरोधक का प्रतिरोध मापने वाला यंत्र क्या कहलाता है? – ओममापी
6. प्रकाश का रंग किस पर निर्भर करता है? – तरंगदैर्घ्य पर
7. नट-बोल्ट जोड़ने के लिए प्रयोग की जाने वाली वैल्डिंग विधि है– प्रक्षेपण वैल्डिंग
8. प्रदीप्ति पुंज (Lummons Flux) की मात्रक क्या है? – ल्यूमेन
9. 230 V ए.सी. स्त्रोत पर निम्न वोल्टता बल्बों की लड़ी के लिए 6.3 V वोल्टता के कितने बल्ब लगाने चाहिए? – 37
10. किसी ट्रांसफॉर्मर की लपेटें (Windings) किस प्रकार सम्बन्धित रहती हैं? – प्रे​रणिक विधि से
11. विद्युत स्टोव का ऊष्मक तन्तु किस पदार्थ की चकती में स्थापित किया जाता है– चीनी मिट्टी
12. विद्युत केतली की वॉटेज सामान्यत: होती है– 350 W
13. ए.सी. को डी.सी. में परिवर्तित करने के लिए न्यूनतम कितने डायोड चाहिए? – एक
14. 'होल्स' की बहुलता वाला अर्द्धचालक पदार्थ कहलाता है– P पदार्थ
15. वोल्टता रैगुलेटर' परिपथ में प्रयोग किया जाने वाला डायोड है– जीनर डायोड
16. वर्तमान इन्वर्टर में कौन-सी किस्म का ट्रांजिस्टर आमतौर पर प्रयोग किया जाता है? – MOSFET
17. 'N' प्रकार का अर्द्धचालक होता है– 'मुक्त इलैक्ट्रॉन्स' की बहुलता वाला
18. पूरक सममिति प्रवर्द्धक (Complementry sysmmetry amplifier) परिपथ में कौन-से दो ट्रांजिस्टर प्रयोग किये जाते हैं? – PNP एवं NPN
19. दिक्परिवर्तक ब्रशों के लिए पदार्थ सामान्य रूप से होता है– कार्बन
20. विद्युत तापक के तार सामान्य रूप से किसके बने होते हैं? – नाइक्रोम
21. चुम्बकीय गुंजन किसके कारण उत्पन्न होती है? – चुम्बकीय बलों
22. जब स्थायी चुम्बक दो टुकड़ों में टूट जाती है, तो प्रत्येक टूटे टुकड़े में से– एक दक्षिणी ध्रुव तथा दूसरी उत्तरी ध्रुव जायेगा
23. एयर सर्किट ब्रेकर में आर्क को बुझाने के लिए प्रयुक्त माध्यम है– वायु
24. विद्युत उत्सर्जन बत्तियों में प्रकाश उत्पन्न होता है– कैथोड किरण उत्सर्जन द्वारा
25. सोडियम वाष्प उत्सर्जन बत्ती का रंग होता है– पीला
26. बल्ब का प्रकाशित होना, विद्युत धारा के किस प्रभाव का एक उदाहरण है? – ऊष्मीय प्रभाव
27. वोल्टेज फ्लोवर किसे कहते हैं? – कॉमन एमीटर को
28. विद्युत वितरण प्रणाली में प्रयोग किया जाता है– स्टार संयोजन
29. यदि ए.सी. लाइन में 8-10 इन्डक्शन मोटर्स संयोजित हों तो पावर फैक्टर होगा– लैगिंग
30. चांदी, सोना, बिस्मथ, जस्ता तथा पारा है– प्रति चुम्बकीय
31. 'स्व-प्रेरकत्व' एवं 'सह-प्रेरकत्व' का मात्रक क्या है? – हेनरी
32. यदि कार्बन प्रतिरोधक के अंकित पट्टियों का रंग क्रमश: पीला, बैंगनी, नारंगी एवं चांदनी हो तो उसका प्रतिरोध मान होगा– 47K Ω + 10%
33. 1 फैरड, कितने e.s.u. के बराबर होता है? – 9 × 10'' e.s.u.
34. ए.सी./डी.सी. वोल्टता, डी.सी. एम्पियर और ओम नापने वाला यंत्र कहलाता है? – मल्टीमीटर
35. जिस पात्र में वैद्युतिक अपघटन की प्रक्रिया सम्पन्न की जाती है, वह क्या कहलाती है? – वोल्टामीटर
36. विद्युत रंजन प्रक्रिया में धनोद से क्या जुड़ा हुआ होता है? – नोबल धातु प्लेट
37. धन आवेश युक्त कण कहलाते हैं– कैटायन
38. संचायन सैल में आसुत जल डालकर सैल की प्लेटों को भली प्रकार विद्युत-अपघट्य में डुबोने की क्रिया क्या कहलाती है? – टापिंग-अप
39. यदि किसी लैड-एसिड बैट्री का सल्फेट कठोर हो गया हो तो उसका उपचार है– ​'ट्रिकिल' आवेशण
40. किस यंत्र का उपयोग ए.सी./डी. सी. धारा मापने के लिए सुगमता से किया जा सकता है? – चल-लौह यंत्र
41. ताप वृद्धि से संधारित्र की धारिता पर क्या प्रभाव पड़ता है? – बढ़ती है
42. वायु-अचालक संधारित्र की कार्यकारी वोल्टता होती है– 500 V डी.सी.
43. बन्द डी.सी. परिपथ में किसी संगम पर धाराओं का बिजगणितीय योग क्या होता है? – शून्य
44. यदि किसी कार्बन प्रतिरोध की चौथी पट्टी का रंग लाल हो, तो उसकी सहनसीमा (Tolerance) होगी– ± 2%
45. डी.सी. जनित्र द्वारा उत्पन्न वि.वा.ब. कहलाती है– गतिजन्य प्रेरित
46. किसी लैम्प की दक्षता किसमें मापी जाती है? – ल्यूमेन/वाट
47. ए.सी. परिपथ में आयाम घटक का मान होता है? – 1.414
48. 'प्रतिरोध' का मात्रक क्या है? – ओम
49. बड़े जनित्र में प्रयोग किये जाने वाले ब्रश होते हैं– तांबे के
50. बैट्री आवेषण कार्य के लिए उपयुक्त जनित्र है– शंट जनित्र



51. डी.सी. वैद्युतिक ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में परिवर्तित करेन वाली मशीन कहलाती है– डी.सी. मीटर
52. शंट कुण्डलन का प्रतिरोध होता है– आर्मेचर कुण्डलन से अधिक
53. ओवर लोड क्वायल (OLC) का क्या कार्य है? – ओवर लोड स्थिति में मोटर को 'ऑफ' करना
54. वार्ड-लियोनार्ड गति नियंत्रण विधि की क्या विशेषता है? – विपरीत दिशा में भी अधिकतम घूर्णन गति प्राप्त करना
55. वेव वाइन्डिंग में सामान्तर पथों (A) को संख्या कितनी होती है? – दो
56. एक इलेक्ट्रॉन को व्यक्त किया जाता है– 1e° के द्वारा
57. आल्टरनेटर द्वारा उत्पन्न वि.वा.ब. की आवृत्ति किस पर निर्भर करती है? – पोल्स की संख्या तथा घूर्णन गति पर
58. सामान्यत: उत्तेजक को स्थापित किया जाता है– रोटर शाफ्ट पर
59. विद्युत आर्क भट्टी का तापमान नापने के लिए प्रयुक्त उपकरण है– पायरोमीटर
60. डी.सी. जनित्र का प्रचलन सिद्धांत है– फैराडे का विद्युत-चुम्बकीय प्रेरण
61. स्व-उत्तेजित जनित का क्षेत्र उत्तेजित किया जाता है– अवशिष्ट चुम्बकत्व से
62. अल्टरनेटर के रोटर को किस धारा की आवश्यकता होती है? – D.C. की
63. अल्टरनेटर के रोटरों में कितने रिंग होते हैं? – दो स्लिप रिंग
64. जेनरेटर जो रोटर को D.C. सप्लाई देता है वह क्या कहलाता है– उत्तेजक
65. बेलनाकार प्रकार के रोटरों में प्राय: किस प्रकार का प्राइम मूवर प्रयोग होता है? – उच्च गति का
66. जनित विद्युत वाहक बल की आवृत्ति किस पर निर्भर करती है? – अल्टरनेटर की गति और अल्टरनेटर के ध्रुवों की संख्या पर
67. यदि सप्लाई के कोई दो फेज आपस में बदल दिए जाएं, तो मोटर– उल्टी दिशा में चलेगी
68. सरकारी वाष्प लैम्प को किस स्थिति में प्रचलित किया जाता है? – ऊर्ध्वाधर स्थिति में
69. उच्च गति और उच्च स्टा​र्टिंग टॉर्क के लिए कौन-सी मोटर की सिफारिश की जाती है? – यूनीवर्सल मोटर
70. पिस्टल टाइप ड्रिलिंग मशीनों के लिए कौन-सी मोटर की सिफारिश करते हैं? – यूनीवर्सल मोटर
71. सिंक्रोनस मोटर की बनावट किसके समान होती है? – अल्टरनेटर के
72. शून्य लोड रनिंग अवस्था में प्रेरित वोल्टेज और सप्लाई वोल्टेज के बीच का कोण कितना होगा? – शून्य
73. रोटर पोल और स्टेटर पोल के बीच का कोण होता है– टार्क कोण
74. यदि सिंक्रोनस मोटर का फील्ड अल्प उत्तेजित हो, तो शक्ति गुणांक क्या होगा? – पश्चगामी
75. कुण्डली में धारा की दिशा किससे ज्ञात की जा सकती है? – फ्लेमिंग के दाएं हस्त नियम द्वारा
76. पृथक् उत्तेजित जेनरेटर में क्षेत्र बाइंडिंग किसके द्वारा उत्तेजित होती है? – प्रत्यक्ष धारा के बाह्य स्त्रोत द्वारा
77. बड़ी क्षमता जेनरेटरों के लिए किसके ब्रुशों का प्रयोग किया जाता है? – तांबा के
78. जेनरेटर में क्या अवांछित क्षति है? – लौह तथा घर्षण क्षति
79. मशीन के ध्रुवों की समान संख्या के लिए लैप बाइंडिंग की तुलना में वेब बाइंडिंग में जनित वि.वा.ब. क्या होगा? – अधिक
80. जेनरेटर का आंतरिक अभिलक्षण किसके बीच चक्र होता है? – आर्मेचर धारा तथा वि.वा.बल के बीच
81. श्रेणी जेनरेटर का प्रयोग किसके लिए होता है? – बूस्टर के लिए
82. बैटरी चार्जिंग के लिए कौनसा जेनरेटर प्रयोग किया जाता है? – शन्ट
83. किसके कारण जेनरेटर अपनी अवशिष्ट चुम्बकत्व खो देती है? – हेमरिंग एवं ओवर हीटिंग दोनों
84. प्रतिरोधी हीटिंग ओवर का तापमान किसके द्यारा नियंत्रित किया जाता है? – थर्मोंस्टेट के प्रयोग द्यारा
85. मोटर विद्युत ऊर्जा को किस ऊर्जा में बदलती है? – यांत्रिक ऊर्जा में
86. श्रेणी मोटरों में फील्ड ध्रुव पर रनों की संख्या क्या होती है? – आर्मेचर से कम
87. D.C. मोटरों की बनावट कैसी होती है? – D.C. जेनरेटरों के समान होती है केवल फ्रेम बनावट भिन्न होती है
88. फील्ड फ्लक्स घटाने से मोटर की गति पर क्या प्रभाव पड़ता है? – बढ़ती है
89. यदि D.C. मोटर की फ्लक्स शून्य हो जाए तो इसकी गति क्या होगी? – शून्य होगी
90. लिफ्टों के लिए कौन से प्रकार की मोटर प्रयोग की जाती है? – सिरीज मोटर
91. इन्टर पोल किसके साथ श्रेणी में जुड़े होते हैं? – आर्मेचर के साथ
92. जब D.C. शन्ट मोटर के फील्ड टर्मिनल और अर्मेचर टर्मिनल दोनों आपस में बदल दिए जाएँ तो मोटर किस दिशा में चलेगी? – मोटर समान दिशा में चलेगी
93. यदि लोडेड शन्ट मोटर के फील्ड कनेक्शन अचानक डिस्कनेक्ट हो जाए तो क्या होगा? – फ्यूज् उड़ जाएगा
94. छाया किसके कारण होती है? – लैम्पों को निम्नस्तर पर लगाने के कारण
95. प्रकाशीय गणनाएँ करने के लिए कौनसी विधि अपनाई जाती है? – ल्यूमन या प्रकाश फ्लक्स विधि
96. कमरे का इल्यूमिनेशन किस पर निर्भर करता है? – छत और दीवार दोनों के रंग पर
97. प्रकाश का एक समान वितरण किस पर निर्भर करता है? – स्थान ऊँचाई अनुपात पर
98. टंगस्टन फिलामेन्ट लैम्प में निष्क्रिय गैस के प्रयोग का उदेश्य क्या है? – हीटिंग एलीमेंट का गलनांक बढ़ाना
99. साडियम वाष्प लैम्प के साथ श्रेणी में चोक का प्रयोग किस लिए किया जाता है? – विसर्जन को स्थिर करने के लिए
100. मरकरी वाष्प लैम्प की औसत आयु कितनी होती है? – 3000 घण्टे

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *