क्या है विश्व आर्थिक मंच


विश्व आर्थिक मंच (World Economic Forum) एक गैर-लाभकारी अंतरराष्ट्रीय संस्था है, जिसका मुख्यालय जिनेवा में स्थित है। इसका उद्देश्य विश्व में बिजनेस राजनीति, शिक्षा और अन्य क्षेत्रों में कार्य करने वाले प्रभावी लोगों को एक मंच पर लाकर वैश्विक, औद्योगिक दिशा तय करना है। यानि यह संस्था विश्व के प्रमुख व्यावसायिक, अंतरराष्ट्रीय राजनीतिक नेताओं, विशिष्ट बुद्धिजीवियों और पत्रकारों के लिए वैश्विक मुद्दों पर चर्चा का एक महत्त्वपूर्ण मंच उपलब्ध कराती है। इसकी 1971 में यूरोपियन प्रबंधन के नाम से जिनेवा विश्वविद्यालय में कार्यरत प्रोफेसर क्लॉस एम श्वाब द्वारा की गई थी। वर्ष 1971 में ही यूरोपीय आयोग और यूरोपीय प्रौद्योगिकी संगठन के सहयोग से इस संगठन की पहली बैठक हुई। सनद रहे कि, इस संस्था की सदस्यता अनेक स्तर पर होती है और ये स्तर उनकी संस्था के काम में सहभागिता पर निर्भर करती है।


वर्ष 1976 में इस मंच ने दुनिया की 1000 प्रमुख कंपनियों को सदस्यता देना शुरू किया। वर्ष 1987 में इसका नाम विश्व आर्थिक मंच कर दिया गया। तब से अब तक, हर साल जनवरी में इसकी बैठक आयोजित होती है। साल 2015 में इस मंच को आ​र्थिक संस्थान के रूप में मान्यता मिली।

इस वर्ष 2018 में इसकी 48वीं बैठक का आयोजन दावोस शहर में हो रहा है। जिसकी विषय वस्तु है- ‘Creating a Shared Future in a Fractured World’ यानि 'विभाजित दुनिया के लिए साझा भविष्य का निर्माण'। विश्व आर्थिक मंच 2018 में ऐसा पहली बार हो रहा है कि बड़ी संख्या में महिलाएं कई सत्र को मॉडरेट और संबोधित करेंगी।

वर्ष 2017 में 'संवेदनशील और जिम्मेदार नेतृत्व', 2016 में 'मास्टरिंग द फोर्थ इंडस्ट्रियल रिवोल्यूशन' और 2015 में 'नए वैश्विक सन्दर्भ' विषय वस्तु थी।

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *