जानिये, क्या है एच-1बी वीजा H-1B Visa?


अमेरिका ने एच-1बी वीजा लेकर नया बिल पेश किया है। जिससे तहत 1.30 लाख डॉलर (करीब 88 लाख रुपए) वेतन वाली नौकरियों के लिए ऐसा वीजा दिया जा सकता है। पहले इसकी सीमा 60 हजार डॉलर (40 लाख रुपए) थी। जिसे करीब दोगुना ​से ज्यादा किया गया है।




जानिये, क्या है एच-1बी वीजा ?
एच-1बी वीजा एक नॉन इमीग्रेंट वीजा है। एच-1बी वीजा योजना वर्ष 1990 में लागू की गई थी। इसका मकसद विदेशी वैज्ञानिकों, इंजीनियरों और टेक्नोलॉजिस्टों को छह साल तक अमेरिका में रोजगार करने की अनुमति देना था। इस अवधि के बाद इन लोगों को या तो अमेरिका छोड़ना होता है या वहां की स्थायी नागरिकता लेनी होती है। इसी के तहत अमेरिकी कंपनियां विदेशी टेक्नीकल एक्सपर्ट को वीजा देकर अमेरिका में जॉब देती हैं। ये कंपनियां हर साल हजारों उम्मीदवारों को रोजगार प्रदान करती हैं। एच-1बी वीजा अनुभवी विशेषज्ञ को दिया जाता है। इस वीजा का इस्तेमाल भारतीय कंपनियां जमकर करती है। साथ ही, पति या पत्नी में से एक को एच-1बी वीजा मिलने की स्थिति में उसके जीवनसाथी को भी अमेरिका में काम करने की मंजूरी मिल जाती है।

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *