Novelist Ved Prakash Sharma passed away


आधा दर्जन फिल्मों के स्क्रिप्ट राइटर और जाने-माने उपन्यासकार वेद प्रकाश शर्मा का 17 फरवरी, 2017 को निधन हो गया। वे 62 वर्ष के थे। वेद प्रकाश शर्मा लगभग एक साल से बीमार थे। उन्हें फेफड़े में संक्रमण हो गया था। मेरठ से मुंबई तक उनका इलाज चला।




परिवार में एक बेटा शगुन शर्मा और तीन बेटियां हैं। 06 जून, 1955 को जन्मे वेद प्रकाश के 'वर्दी वाला गुंडा' उपन्यास ने धूम मचा दी थी। उन्होंने कुल 173 उपन्यास लिखे थे। कहते हैं कि 1993 में वर्दी वाला गुंडा की पहले ही दिन देशभर में 15 लाख कॉपी बिक गई थीं। मेरठ शहर के सभी बुक स्टॉल से नॉवेल घंटों में गायब थीं।

06 जून 1955 को जन्मे वेद प्रकाश शर्मा के 'वर्दी वाला गुंडा', 'बहू मांगे इंसाफ' जैसे कई उपन्यासों ने धूम मचा दी थी। पहले दूसरों के लिए 'घोस्ट राइटिंग' की। फिर खुद का नाम मिला। अपने नाम से कुल 173 उपन्यास लिखे।

खिलाड़ी श्रृंखला की फिल्मों के लिए स्क्रिप्ट लिखी। बहू मांगे इंसाफ पर शशिलाल नायर के निर्देशन में बहू की आवाज फिल्म बनी। मेरठ आए आमिर खान की जब उनसे मुलाकात हुई थी, तो उन्होंने एक फिल्म के लिए स्क्रिप्ट लिखने का आग्रह किया था और वेद प्रकाश उस पर काम कर रहे थे।

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *