आज का इतिहास 25 अगस्त (देश-विदेश)

आज ही के दिन यानि 25 अगस्त को भारत सहित विश्व इतिहास की प्रमुख घटनाएं इस प्रकार है–
1351 – सुल्तान फिरोजशाह तुगलक तृतीय की ताजपोशी हुई।
1768 – ब्रिटेन के जेम्स कुक अपनी पहली साहसिक समुद्री यात्रा पर निकले थे। इसी यात्रा में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया की खोज की और प्रशांत महासागर के जलमार्ग बताने वाले नक्शे तैयार किए।
1819 – स्‍ककॉटिश आविष्‍कारक जेम्‍स वॉट का निधन हुआ।
1867 – भौतिकी विज्ञानी और रसानशास्‍त्री माइकल फैराडे का निधन हुआ।
1888 – काशकार आंदोलन के जनक और पाकिस्तान के निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाले विद्वान अल्लामा मशरिकी का जन्म हुआ।
1916 – टोटनबर्ग के युद्ध में रूस ने जर्मनी को पराजित किया।
1917 – ब्रिटिश इंडिया आर्मी में सेवाएं दे रहे 7 भारतीयों को पहली बार किग्‍स कमीशन मिला।
1940 – लिथुआनिया, लातविया और एस्तोनिया सोवियत संघ में शामिल हुए।
1957 – भारत ने फ्रांस में हुई पोलो वर्ल्ड चैम्पियनशिप के फाइनल में जीत दर्ज कर विश्व विजेता का खिताब हासिल किया।

यह भी जानें : 24 अगस्त की भारत सहित विश्व की प्रमुख घटनाएं

1962 – राजकपूर के सबसे छोटे बेटे फिल्म अभिनेता व डायरेक्टर राजीव कपूर का जन्म चेम्बूर में हुआ।
1963 – सोवियत संघ के नेता जोसेफ स्टातलिन के सोलह विरोधियों को फांसी पर चढ़ा दिया गया।
1967 – फिल्म अभिनेत्री विजयेता पंडित मुम्बई में पैदा हुई।
1969 – पूर्व भारतीय क्रिकेटर विवेक राजदान का जन्म हुआ।
1977 – सर एडमंड हिलेरी का सागर से हिमालय अभियान हल्दिया बंदरगाह से शुरू हुआ।
1980 – जिम्बाब्वे संयुक्त राष्ट्र में शामिल हुआ।
1991 – बेलारूस सोवियत संघ से अलग होकर स्वतंत्र देश बना।
1992 – ब्रिटिश अखबार ने राजकुमारी डायना की बातचीत का ब्‍योरा जारी किया, इसमें उन्‍होंने प्रिंस से शादी पर नाखुशी जाहिर की थी।

पढ़े : भारतीय व विश्व इतिहास में 26 अगस्त का दिन

1997 – मासूमा, इब्तेकार ईरान की पहली महिला उपराष्ट्रपति नियुक्त हुई।
2001 – लंदन में आस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर शेनवार्न टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 400 टेस्ट विकेट लेने वाले पहले स्पिन गेंदबाज बने।
2003 – मुंबई के गेटवे आफ इंडिया और मुंबा देवी मंदिर के पास हुए कार बम विस्फोट में 50 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई तथा 150 से अधिक घायल हो गए थे।
2011 – श्रीलंका सरकार ने लिट्टे से संघर्ष शुरू होने के बाद देश में घोषित आपातकाल को 30 वर्ष बाद वापस ले लिया।
2012 – वोयेजर 1 सौरमंडल से बाहर अंत‍रिक्ष में दाखिल होने वाला पहला मानवनिर्मित यान बना।
– चांद पर कदम रखने वाले नील आर्मस्‍ट्रांग का निधन हुआ।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *