संतोष ट्रॉफी : महाराष्ट्र को हराकर सर्विसेज चैम्पियन

अर्जुन टुडु के दो गोलों की मदद से सर्विसेज ने राष्ट्रीय फुटबॉल चैंपियनशिप संतोष ट्रॉफी के फाइनल में महाराष्ट्र को 2-1 से हराकर अपना खिताब बरकरार रखा। पिछले वर्ष 2015 में सैफ कप के लिए भारतीय शिविर में शामिल अर्जुन ने 11 मिनट के अंदर दो गोल (26 और 37वां मिनट) कर सर्विसेज को अपना पांचवां खिताब जीतने में मदद की।

यह भी देखें : संतोष ट्रॉफी विजेताओं की सूची अबतक

सर्विसेज ने इस जीत से अपने ओवरआॅल पांचवें खिताब पर कब्जा किया। 13 मार्च को एसईसी रेलवे स्टेडियम में खेले गए मैच में महाराष्ट्र की टीम ने 15वें मिनट में मोहम्मद शाहबाज की मदद से बढ़त बनाई थी। चैंपियन बनने पर सर्विसेज को पांच लाख रुपये की इनामी राशि मिली जबकि उपविजेता महाराष्ट्र को बतौर पुरस्कार तीन लाख रुपये मिले।

मोहम्मद शाहबाज ने 15वें मिनट में बेहतरीन गोल किया था जब उन्होंने बाक्स के बाहर से मिली गेंद पर फर्राटा लगाते हुए दो रक्षक खिलाड़ियों को चकमा देते हुए दनदनाता हुआ गोल दाग दिया था। सर्विसेज ने 11 मिनट बाद अर्जुन के गोल से स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया।

सैंतीसवें मिनट में अर्जुन ने महाराष्ट्र के बाक्स में मिली रक्षण खामी का फायदा उठाया और गोलकीपर ओवेस को छकाते हुए आसानी से गोल कर दिया। दूसरे हाफ में महाराष्ट्र की टीम ने बराबरी का गोल करने के लिए काफी प्रयास किया। ज्यादातर खेल सर्विसेज के पाले में ही हुआ। सर्विसेज टीम कुछ चुनींदा पलटवार करने में सफल जरूर रही।

महाराष्ट्र की टीम को दर्शकों का समर्थन मिल रहा था लेकिन बाक्स के बाहर मिली कई फ्री किक का टीम सुदपयोग नहीं कर पाई। एक समय 88वें मिनट में सर्विसेज की टीम में दस खिलाड़ी ही रह गए थे जब हार्दिक कनोजिया को रेड कॉर्ड दिखाया गया था।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *