भारतीय रेलवे सामान्य ज्ञान : महत्वपूर्ण तथ्य

भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम 
● भारतीय रेलवे की पहली रेलगाड़ी 16 अप्रैल, 1853 को बोरीबंदर (अब छत्रपतित शिवाजी टर्मिनल) से थाणे के बीच शुरू हुई।
● भारतीय रेलवे का पहला भाप इंजन ‘फाकलैण्ड’ था, जिसे इंग्लैण्ड से मँगाया गया। यह 16 अप्रैल, 1853 को बोरीबंदर से थाणे के बीच चला।
● पहली रेलवे ‘समय सारणी’ 1853 ई. में मध्य रेलवे द्वारा प्रकाशित की गई।
● भारतीय रेलवे में पहला दूरसंचार के लिए मोर्स टेलीग्राफ उपकरण वर्ष 1860 में लगाया गया।
● भारतीय रेलवे की पहला रेल दुर्घटना 25 जनवरी, 1869 को भोरघाट (पूना-मुम्बई मार्ग) में हुई।
● भारतीय रेलवे ने 14 फरवरी, 1873 को पहली मीटर गेज रेल प्रणाली में राजपूताना-मालवा रेलवे द्वारा दिल्ली-रेवाड़ी के मध्य खोला गया।
● पहली नैरोगेज रेल प्रणाली 4 जुलाई, 1881 को सिलीगुड़ी-दार्जिलिंग के मध्य शुरू हुई।
● भारतीय रेलवे का सर्वप्रथम स्वदेशी भाप इंजन ‘एफ-734’ है, जोकि अजमेर कारखाना द्वारा वर्ष 1895 में, राजपूताना रेलवे में उपयोग के लिए बनाया गया।
● रेलगाड़ियों में शौचालय की व्यवस्था प्रथम श्रेणी सन् 1891 और निम्न श्रेणियों में सन् 1907 में हुई।
● भारत में विद्युत रेलवे की शुरूआत 1925 ई. में हुई। प्रथम विद्युत रेल पूना और बम्बई (मुम्बई) के मध्य चलाई गयी।
● भारतीय रेलवे में पहली स्वचालित सिग्नल प्रणाली 1928 ई. में मध्य रेलवे द्वारा शुरू की गयी।
● भारतीय रेलवे की पहली स्वचालित रंगीन प्रकार संकेत (Automatic Colour Light Signalling) प्रणाली 1929 में मुम्बई मण्डल के मुम्बई VT तथा भायखला के मध्य शुरू की गई।
● भारतीय रेलवे की पहली डीलक्स रेलगाड़ी ‘डेक्कन क्वीन’ जून 1930 को मुम्बई VT-पुणे के मध्य चलायी गयी।
● पहली वातानुकूलित रेलगाड़ी मुम्बई और बड़ौदा के बीच 1936 ई. में शुरू की गई।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम ‘जनता एक्सप्रेस रेलगाड़ी’ 15 नवम्बर, 1948 को पटना दिल्ली के बीच चली थी।
● भारतीय रेलवे ​का पहला स्वदेश निर्मित DC विद्युत रेल इंजन ‘लोकमान्य’ था, जिसे CLW ने अक्टूबर 1961 में बनाया।
● भारतीय रेलवे में पहली केन्द्रीयकृत यात्री नियंत्रण (CTC) प्रणाली 1966 ई. में पूर्वोत्तर रेलवे में शुरू की गई।
● पहली ब्राड गेज सुपर फास्ट ट्रेन नई दिल्ली और हावड़ा के बीच ‘राजधानी एक्सप्रेस’ के रूप में 1 मार्च, 1969 को चलायी गयी।
● पहली राजधानी एक्सप्रेस 1 मार्च, 1969 को नई दिल्ली-हावड़ा के मध्य शुरू हुई।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम गार्ड एवं ड्राइवर के मध्य टेलीफोन संचार सेवा 20 जून, 1982 को मुम्बई-नई दिल्ली राजधानी एक्सप्रेस में प्रारम्भ की गई।
● भारत की सर्वप्रथम सबसे लम्बी रेलवे सुरंग मंकी हिल से खण्डाला स्टेशन के बीच (2100 मीटर) बनी, जिसे 5 जुलाई, 1982 को आवागमन हेतु खोला गया।
● भारतीय रेलवे की पहली पर्यटन रेलगाड़ी ‘पैलेस ऑन ह्नील्स’ वर्ष 1982 में दिल्ली-जयपुर के बीच शुरू की गई।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम मेट्रो रेलवे कोलकाता में 24 अक्टूबर, 1984 को परिचालित हुई थी।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम कम्प्यूटरीकृत यात्री आरक्षण व्यवस्था 15 नवम्बर, 1985 को नई दिल्ली’ में शुरू हुई थी।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम सर्कुलर रेलवे कोलकाता में प्रिंसेपघाट से उल्टाडांगारोड के मध्य (10 किमी) 16 जनवरी, 1985 को शुरू किया गया था।
● भारतीय रेलों में सर्वप्रथम संचार सेवा हेतु ऑप्टिकल फाइबर केबिल का उपयोग चर्चगेट-विरार रेल खण्ड के मध्य 3-12-1988 को लगाया गया था।
● भारतीय रेलवे में सर्वप्रथम शताब्दी एक्सप्रेस 10 जुलाई, 1988 को नई दिल्ली-झाँसी के मध्य शुरू हुई थी।
● पहली महिला रेलवे ड्राइवर सुरेखा यादव थीं जो 1990 में ट्रेनीज सहायक ड्राइवर पद पर (मध्य रेलवे में) नियुक्त हुई।
● भारतीय रेलवे की पहली महिला डीजल ड्राइवर सुश्री मुमताज काथावाला थीं जो 1992 में सहायक डीजल ड्राइवर पद पर (मध्य रेलवे) में नियुक्त हुई थी।
● भारत एवं विश्व की प्रथम एम्बुलेन्स रेलगाड़ी या चलता-फिरता अस्पताल ‘लाइफ लाइन या जीवन-रेखा एक्सप्रेस’ है, जो 16 जुलाई, 1991 को मुम्बई से देश के विभिन्न भागों में चिकित्सा सेवा हेतु रवाना हुई थी।
● पहली ‘महिला स्पेशल ट्रेन’ पश्चिम रेलवे के चर्चगेट-बोरीबली रेलखण्ड में 5 मई, 1992 को शुरू की गयी।
● भारतीय रेलवे की पहली पूर्णतया अनारक्षित एक्सप्रेस रेलगाड़ी ‘जनसेवा एक्सप्रेस’ 6 जुलाई, 1995 को सूरत-वाराणसी के बीच प्रारम्भ हुई।
● ‘तत्काल आरक्षण सेवा’ भारतीय रेलवे में 20 दिसम्बर, 1997 को नई दिल्ली-अमृतसर शताब्दी एक्सप्रेस से प्रारम्भ की गई।
● देश में पहली जनशताब्दी एक्सप्रेस रेलगाड़ी 16 अप्रैल, 2002 को मुम्बई एवं मडगाँव के बीच चलाई गई।
● इंटरनेट पर रेल आरक्षण की सुविधा 3 अगस्त, 2002 से सर्वप्रथम दिल्ली में शुरू की गई।
● भारत में पहली डबल डेकर रेलगाड़ी एक ‘कंटेनर ट्रेन’ है, जो जयपुर में कनकपुरा स्थित अन्तर्देशीय कंटेनर डिपो से पिपावाव पोर्ट के मध्य 23 मार्च, 2006 को चलाई गई।
● छत्रपति शिवाजी टर्मिनस मुम्बई स्टेशन भवन को 30 मार्च, 2005 में विश्व विरासत का प्रमाण-पत्र मिला।
● भारत एवं विश्व का प्रथम और एकमात्र स्काई बस मेट्रो स्टेशन 15 अक्टूबर, 2003 को कोंकण रेलवे के ‘मडगाँव’ में बनाया गया है।
● भारतीय रेलवे की रेलगाड़ियों के नम्बर 4-4 अंकों की जगह 5-5 अंकों की नई व्यवस्था 20 दिसम्बर, 2010 से लागू हुई।
● पहली ‘लाकर्स ऑन ह्नील्स’ सुविधा नई दिल्ली-लखनऊ के बीच चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस में शुरू की गयी थी।
● विजयवाड़ा रेलवे स्टेशन भारतीय रेल का ऐसा सबसे बड़ा रेलवे स्टेशन है जहाँ प्रतिदिन 120 से अधिक रेलगाड़ियाँ यहाँ से आती जाती हैं।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *