दुनिया का 7वां 'वैल्यूड नेशन' बना भारत


भारत दुनिया का सातवां सबसे वैल्यूड 'नेशन ब्रांड' बन गया है। ब्रांड फाइनेंस द्वारा संकलित वर्ल्ड्स मोस्ट वैल्युबल नेशंस ब्रैंड्स की वार्षिक रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने अपनी ब्रांड वैल्यू में 32 फीसदी इजाफे के साथ एक स्थान की बढ़त ली है। भारत की नेशनल ब्रांड वैल्यू 2.1 बिलियन डॉलर (करीब 137 अरब रुपये) है। रिपोर्ट के अनुसार, 19.7 बिलियन डॉलर (करीब 1288 अरब रुपये) की वैल्यू के साथ अमेरिका शीर्ष पर है। इस सूची में चीन और जर्मनी क्रमश: दूसरे और तीसरे स्थान पर हैं।

सूची में यूके को चौथा, जापान को पांचवां और फ्रांस को छठा स्थान हासिल हुआ है। भारत और फ्रांस ने पिछले साल की तुलना में एक-एक स्थान आगे बढ़ने में कामयाबी हासिल की है। वहीं, पिछली सूची में एक से पांच तक जगह बनाने वाले देशों ने इस बार भी अपनी स्थिति बरकरार रखी है। हालांकि, भारत के नेशन ब्रांड में 32 फीसदी की उछाल सूची में शामिल शीर्ष 20 देशों में सबसे अधिक है। चीन ने अपनी ब्रांड वैल्यू में एक फीसदी की कमी के बावजूद 6.3 बिलियन डॉलर (करीब 412 अरब रुपये) के साथ दूसरा स्थान बरकरार रखा है।

ब्रांड फाइनेंस के अनुसार वह दुनिया की सबसे बड़ी कंपनियों की मर्यादा के लिए कार्यरत रॉयल्टी रिलीफ मेकनिजम के आधार पर 100 प्रमुख देशों की ताकत और उनके मूल्यों का आकलन करता है। नेशन ब्रैंड वैल्यू प्रत्येक देश में सभी ब्रैंड्स की बिक्री की भविष्यवाणियों के आधार पर तय होता है और इसके लिए एक पेचीदा प्रक्रिया अपनाई जाती है। इसमें जीडीपी का प्रयोग कुल राजस्व के लिए प्रॉक्सी के तौर पर होता है।

‘अतुल्य भारत’ के नारे ने किया अच्छा काम
रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत के ‘अतुल्य भारत’ (इनक्रेडिबल इंडिया) के नारे ने अच्छा काम किया है जबकि जर्मनी को फॉक्सवैगन संकट से नुकसान हुआ है। ब्रिक्स देशों (ब्राजील, रूस, चीन, इंडिया और साउथ अफ्रीका) में भारत एकमात्र देश है जिसने अपनी ब्रांड वैल्यू में बढ़ोतरी हासिल की है। जबकि ब्राजील, रूस, चीन और दक्षिण अफ्रीका की ब्रांड वैल्यू में कमी आई है।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *