यश भारती व पद्म सम्मान वालों को भी पेंशन

यश भारती और पद्म सम्मान वालों को मिलेगी 50 हजार रुपये पेंशन

उत्तर प्रदेश का प्रतिष्ठित पुरस्कार ‘यश भारती’ व पद्म सम्मानों से अलंकृत विशिष्ट लोगों, कलाकारों, साहित्यकारों, खिलाड़ियों, गायकों आदि को अब 50 हजार रुपये प्रतिमाह पेंशन दी जाएगी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की अध्यक्षता में 20 अक्टूबर को हुई कैबिनेट की बैठक यह फैसला किया गया। याद रहे, कि यश भारती पुरस्कारों की शुरुआत वर्ष 1994 में समाजवादी पार्टी की सरकार द्वारा की गई थी।

कैबिनेट ने यश भारती व पद्म सम्मान से सम्मानित लोगों को मासिक पेंशन देने के लिए नियमावली को मंजूरी दे दी है। इसके तहत पात्र लोगों को जीवन पर्यंत 50 हजार रुपये प्रति माह की पेंशन दी जाएगी।

कैबिनेट के फैसले के अनुसार ऐसे लोग जिनकी जन्मभूमि व कर्मभूमि उत्तर प्रदेश रही है और जिन्हें राज्य सरकार द्वारा स्थापित यश भारती सम्मान और भारत सरकार द्वारा दिए जाने वाले पद्म पुरस्कार से सम्मानित किया गया है, इस नियमावली के तहत पेंशन प्राप्त करने के लिए पात्र होंगे।

सनद रहे, कि बॉलीवुड के मशहूर बच्चन खानदान के डॉ. हरिवंश राय बच्चन, अमिताभ बच्चन, जया बच्चन, अभिषेक बच्चन सहित 140 लोग अब तक यश भारती से सम्मानित किए जा चुके हैं। इन्हें पेंशन देने के लिए हाल ही में संस्कृति विभाग की ओर से प्रस्ताव तैयार करके शासन के पास मंजूरी के लिए भेजा गया था। पुरस्कार के पहले वर्ष में डॉ. हरिवंश राय बच्चन, अमिताभ, जया बच्चन, गोपाल दास नीरज, कैफी आजमी, उस्ताद बिस्मिल्ला खां सहित 30 लोगों को इस अवार्ड से नवाजा गया था जबकि अभिषेक को 2006 में सम्मानित किया गया था। शुरुआती दौर में पुरस्कार के साथ दी जाने वाली सम्मान राशि 5 लाख रुपये थी। जिसे अब बढ़ाकर 11 लाख रुपये कर दिया गया है। पिछले 20 वर्षों में कुल 140 लोगों को यशभारती से सम्मानित किया जा चुका है।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *