स्मार्ट सिटी के 98 शहरों के नामों की सूची जारी


देश के 100 में से 98 स्मार्ट सिटी के नाम का ऐलान हो गया। उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 13 स्मार्ट सिटी बनेंगी। गुरुवार को स्मार्ट सिटी के नामों का ऐलान करते हुए केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि 2 स्मार्ट सिटी के नाम का ऐलान बाद में होगा। यह शहर जम्‍मू-कश्‍मीर से होंगे। 100 स्मार्ट सिटी पर अगले पांच साल में 48,000 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। वहीं, अमृत शहरों को मिलाकर कुल इन्वेस्टमेंट 96,000 करोड़ रुपए का होगा। पहले चरण में 20 स्मार्ट सिटी और दूसरे चरण में 80 स्मार्ट सिटी का निर्माण होगा।

नेशनल मीडिया सेंटर में वेंकैया नायडू ने बताया कि 4 स्मार्ट सिटी के शहरों की जनसंख्या 50 लाख से अधिक होगी 98 शहरों में 24 राजधानियां शामिल हैं। स्मार्ट सिटी का निर्माण स्पेशल पपर्स व्हीकल (एसपीवी) के तहत होगा। स्मार्ट सिटी के निर्माण में राज्‍य और अर्बन अथारिटी की हिस्‍सेदारी 50–50 फीसदी होगी। सरकार इसमें निजी क्षेत्र को भी ला सकती है। 98 में से 90 अमृत शहर बनेंगे। इस साल हर सिटी को 200 करोड़ मिलेंगे और बाकी के चार साल में 100-100 करोड़ रुपए मिलेंगे। सिटी कंपिटीशन चैलेंज के बाद राज्‍यों की लिस्ट जारी की गई है।

UP में सबसे ज्‍यादा 13 स्मार्ट सिटी
शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि 98 शहरों में 24 राजधानियां शामिल हैं। स्मार्ट सिटी की लिस्ट में यूपी के 13 शहर, राजस्थान के 4 शहर, आंध्र प्रदेश, पंजाब और बिहार के तीन-तीन शहर, गुजरात के 6 शहर, महाराष्‍ट्र 10 के शहर, तमिलनाडु के 12 शहर, मध्य प्रदेश के 7 शहर, पश्चिम बंगाल के 4 शहर, छत्‍तीसगढ़, तेलंगाना, ओडिशा व हरियाणा के दो-दो शहर, कनार्टक के 6 शहर, दिल्‍ली, केरल, झारखंड, गोवा, हिमाचल प्रदेश, अरुणाचल प्रदेश, चंडीगढ़ के एक-एक शहर शामिल हैं।

98 शहरों के 13 करोड़ लोगों को होगा फायदा
स्मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट के तहत 98 शहरों के 13 करोड़ लोगों को फायदा होगा, इसमें से 35 फीसदी जनसंख्‍या शहरी होगी। 98 स्मार्ट सिटी में 24 बिजनेस एवं इंडस्‍ट्री सेंटर, 18 कल्चरल एंड टूरिस्‍ट सेंटर और तीन एजुकेशन एंव हेल्‍थ केयर हब होंगे।

स्‍मार्ट पीपुल की जरूरत, 'सुंदर नगरी' हिंदी नाम
शहरी विकास मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि स्‍मार्ट सिटी प्रोजेक्‍ट को लागू करने में राज्‍य/केंद्र शासित प्रदेशों और शहरी स्‍थानीय संस्‍थाओं की भूमिका अहम होगी। स्‍मार्ट सिटी के लिए स्‍मार्ट पीपुल की जरूरत है। हमें अपने मिशन पर आगे बढ़ने के लिए जनता के सहयोग की जरूरत है। स्‍मार्ट सिटी का हिंदी नाम पूछे जाने पर नायडू ने कहा कि इसका नाम 'सुंदर नगरी' होना चाहिए। नायडू ने यह भी कहा कि यदि कोई अच्‍छा नाम आता है, तो उस पर विचार होगा।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *