जनता परिवार का विलय, मुलायम अध्यक्ष बने


जनता परिवार के छह दलों ने 15 अप्रैल, 2015 को आपस में विलय करके नई पार्टी बना ली। समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव को इसका राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया है। मुलायम सिंह संसदीय दल के भी अध्यक्ष होंगे। अभी इस नई पार्टी का नाम, चुनाव चिंह और झंडा तय नहीं हुआ है। जिन दलों का विलय हुआ है, उनमें मुलायम सिंह यादव की समाजवादी पार्टी (सपा), लालू प्रसाद यादव की राष्ट्रीय जनता दल (राजद), नीतीश कुमार की जनता दल यूनाईटेड (जदयू), जनता दल सेक्युलर (जेडीएस), ओम प्रकाश चौटाला की इंडियन नेशनल लोकदल (आइएनएलडी) और कमल मोरारका की पार्टी शामिल हैं।

मुलायम सिंह के दिल्ली स्थित आवास पर हुई बैठक के बाद शरद यादव ने बताया कि एक छह सदस्यीय कमेटी बनाई गई है, जो नई पार्टी के नाम, चुनाव ​चिंह और झंडे पर फैसला लेगी। इसमें शरद यादव, लालू प्रसाद यादव, देवेगौड़ा, ओम प्रकाश चौटाला, कमल मोरारका और रामगोपाल यादव बतौर सदस्य शामिल होंगे।

सनद रहे, राज्यसभा में जनता परिवार के कुल 30 सदस्य हैं, जिसमें सपा के 15, जदयू के 12, जेडीएस, आरजेडी और इनेलो के एक-एक सदस्य हैं। लोकसभा में कुल संख्या 15 है जिसमें सपा के 5, राजद के 4, इनेलो, जेडीएस एवं जेडीयू के दो-दो सदस्य हैं।

बिहार में इसी साल होने वाले विधानसभा चुनाव को देखते हुए जदयू और राजद ने एक दूसरे का धुर विरोधी होते हुए भी न केवल एक दूसरे से हाथ मिलाया है बल्कि जनता परिवार से अलग हुई अन्य पार्टियों को भी एक करने की मुहिम छेड़ी।

जनता परिवार का सफरनामा
1977 : समाजवादी विचारधारा के नेताओं और जनसंघ के साथ मिलकर बनी जनता पार्टी केंद्र में सत्ता में आई, देश में पहली बार गैर कांग्रेसी सरकार बनी।
1980 : जनसंघ के नेताओं जनता परिवार से अलग होकर भारतीय जनता पार्टी बनाई
1987 : कांग्रेस से अलग हुए विश्वनाथ प्रताप सिंह ने बोफोर्स घोटाले का मामला उठाया
1988 : जनता परिवार के घड़ों लोकदल, कांग्रेस एस और लोकमोर्चा ने मिलकर जनता दल बनाया
1989 : लोकसभा चुनाव में जनता दल सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी, भारतीय जनता पार्टी के समर्थन से विश्वनाथ प्रताप सिंह प्रधानमंत्री बने
1990 : विश्वनाथ प्रताप सिंह की सरकार भारतीय जनता पार्टी के समर्थन वापस लेने के कारण गिर गई
1990 : पहली बार पार्टी टूटी, चंद्रशेखर ने 60 सांसदों के साथ अलग होकर समाजवादी जनता पार्टी बनाई
1992 : मुलायम सिंह यादव ने चंद्रशेखर से अलग होकर समाजवादी पार्टी बनाई
1994 : नीतीश कुमार और दूसरे नेताओं ने समता पार्टी बनाई
1997 : लालू यादव ने राष्ट्रीय जनता दल का गठन किया
1999 : जनता दल से टूट कर देवेगौड़ा ने जेडीएस बनाया
2003 : समता पार्टी और जनता दल विलय कर जनता दल यूनाईटेड बने

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *