क्रिकेट विश्व कप से जुड़ी रोचक जानकारी

– विश्व कप की शुरुआत 1975 में इंग्लैंड से हुई और उस समय मैच 60-60 ओवर के होते थे।
– विश्व कप क्रिकेट की पहली गेंद भारत के मदन लाल ने फेंकी और उस गेंद को बल्लेबाज जान जेमसन इंगलैण्ड ने खेला।
– 1987 में चेन्नर्इ में हुआ विश्व कप का वह अकेला मैच था जिसमें आस्ट्रेलिया ने भारत को 1 रन से पराजित किया।
– विश्व कप मैंचों में 1987 में इंगलैण्ड के ग्राह गूच को लगातार 3 मैंचों में 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार प्राप्त हुआ।
– विश्व कप मैचों में अब तक दो पिता-पुत्र ने भाग लिया। ये हैं-पिता डोनाल्ड प्रिंगल (पूर्व अफ्रीका) 1975 में और पुत्र डेरेक प्रिंगल (इंगलैण्ड) 1987 व 1992 में। न्यूजीलैण्ड के लांस केर्नस 1983 व 1987 में और क्रिस केर्नस 1992 में।
– 1975 के विश्व कप मैचों में आस्ट्रेलिया के एलन टर्नर लंच के पूर्व शतक लगाने वाला एकमात्र बल्लेबाज हैं। जिन्होंने श्रीलंका के विरुद्ध 101 रन बनाये।
– विश्व कप का सबसे कम अवधि का मैच 1979 में इंगलैण्ड एवं कनाडा के मध्य खेला गया। जो 3 घंटा और 35 मिनट चला। जबकि सबसे लम्बी अवधि का मैच 1975 में आस्ट्रेलिया और वेस्टइण्डीज के मध्य खेला गया फाइनल था। यह 11 बजे से शुरू होकर शाम को 8 बजकर 42 मिनट पर समाप्त हुआ।
– 1975 के विश्व कप में एक ही बार तीन भार्इ एक साथ खेले-इंगलैण्ड के विरुद्ध डेल हेडली, बैरी हैडली और रिचर्ड हैडली न्यूजीलैण्ड की ओर से।
– प्रथम तीनों विश्व कपों का प्रायोजन इंगलैण्ड की कंपनी प्रूडेंशियल इंश्योरेंस ने किया था। 1987 के विश्व कप को भारत के उद्योग घराने रिलायंस कम्पनी ने प्रायोजित किया।
– सुनील गावस्कर ने 1975 में इंगलैण्ड के विरुद्ध 60 ओवरों में नाबाद 36 रन बनाकर विश्व कप मैचों की सबसे धीमी पारी खेली। जबकि 1989 में न्यूजीलैण्ड के विरुद्ध 103 रन उनकी तेज पारियों में से एक है। गावस्कर ने यह शतक 88 गेंदों में बनाया था।
– एक ही विश्व कप के सेमी फाइनल और फाइनल मैच में 'मैन ऑफ द मैच' का पुरस्कार पाने वाले एकमात्र खिलाड़ी 1983 में भारत के मोहिंदर अमरनाथ है।
– विश्व कप के इतिहास में पहली हैट्रिक 1987 में भारत के चेतन शर्मा ने बनायी थी। दूसरी हैट्रिक बनाने वाले पाकिस्तान के सकलेन मुश्ताक ​थे।
– विश्व कप में मैचों में हीरालाल शाह (पूर्व अफ्रीका) शून्य में आउट होने वाले प्रथम बल्लेबाज हैं। एक पारी में सर्वाधिक शून्य में आउट होने वाले इंगलैण्ड के 5 बल्लेबाज (वेस्टइंडीज के विरुद्ध 1979 में) हैं।
– विश्व कप में 137 रन रन के साथ पहला शतक लगाने का श्रेय डेनिस एमिस (इंगलैंड) को है।
– 1992 विश्व कप को बेंसेज एंड हेजेज विश्व कप का नाम दिया गया। यही वह पहला अवसर था जब क्रिकेट में रंगीन कपड़ों का प्रयोग किया गया था।
– आस्ट्रेलिया वर्ष 1987, 1999, 2003 और 2007 चार बार क्रिकेट का विश्व कप जीतने में सफलता प्राप्त की। ऐसी उपलबिध वाला वह पहला देश है।
– विश्व कप के इतिहास में फाइनल में बनाया गया अब तक का सर्वोच्च स्कोर 359 रन है। जो 2003 में भारत के विरुद्ध आस्ट्रेलिया द्वारा बनाया गया।
– विश्व कप क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज सचिन तेन्दुलकर हैं जिन्होंने पाकिस्तान के जावेद मियांदाद का रिकार्ड तोड़ा।
– विश्व कप क्रिकेट में सबसे तेज शतक का रिकार्ड बनाने वाले खिलाड़ी आयरलैण्ड के केविन ओ-ब्रायन का है, जिन्होंने इंगलैण्ड के विरुद्ध केवल 50 गेंद में बनाये।
– आठवें विश्व कप में भारतीय टीम के सदस्य पार्थिव पटेल उस समय 17 वर्ष, 11 माह के थे। विश्व कप के इतिहास में सबसे कम उम्र के खिलाड़ी के रूप में उनका नाम दर्ज है।
– 2003 के आठवें विश्व कप में भारत के सचिन तेंदुलकर ने एक टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा 673 रन बनाए। जिसके लिए उन्हें 'गोल्डन बैट पुरस्कार' प्रदान किया गया था।
– पाकिस्तान के वसीम अकरम विश्व कप में सर्वाधिक 38 मैच खेलने वाले खिलाड़ी हैं। इन्होंने अपने ही देश के जावेद मियांदाद व आस्ट्रेलिया के स्टीव वॉ के 33-33 मैच खेलने के रिकार्ड को तोड़ा।
– भारतीय खिलाड़ी सौरव गांगुली ने आठवें विश्व कप में सर्वाधिक 23 छक्के लगाकर किसी एक विश्व कप में सर्वाधिक 22 छक्के लगाने का वेस्टइंडीज के विवियन रिचर्डस का रिकार्ड तोड़ा।
– वेस्टइण्डीज के स्टीव बकरन विश्व कप में पाँच फाइनल मैचों में एम्पायरिंग करने वाले विश्व के पहले अम्पायर बने।
– विश्व कप के इतिहास में अब तक केवल तीन मैच टार्इ हुए। दक्षिण अफ्रीका-श्रीलंका के मध्य डरबन में 2003 में, दक्षिण अफ्रीका-आस्ट्रेलिया के बीच 1999 और जिम्बाब्वे-आयरलैण्ड के बीच 2007 में।
– आठवें विश्व कप में श्रीलंका के विरुद्ध खेलते हुए कनाडा की पूरी टीम मात्र 36 रन पर आउट हुर्इ। यह विश्व कप ही नहीं, एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट में भी अब तक का न्यूनतम स्कोर है।
– नामीबिया का रूडी वैन वूरेन विश्व के ऐसे पहले खिलाड़ी है जिसने क्रिकेट व रग्बी, दोनों के ही विश्व कप आयोजन में भाग लिया।
– विश्व कप 2007 में दक्षिण अफ्रीका के हर्षेल गिब्स ने हालैण्ड के विरुद्ध एक मैच में डानवान बुंगे के एक ओवर में छह छक्के लगाए। इस तरह वह विश्व कप के साथ ही एकदिवसीय अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट के एक ओवर में छह छक्के लगाने वाले विश्व के पहले बल्लेबाज हैं।
– विश्व कप 2011 भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश ने मिलकर आयोजित किया। इस विश्व कप में 14 टीमों ने भाग लिया था।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *