अरविंद केजरीवाल फिर बने दिल्ली के मुख्यमंत्री

आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल ने शनिवार, 14 फरवरी को दिल्ली के आठवें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उपराज्यपाल नजीब जंग ने उन्हें पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई, जो उन्होंने हिन्दी में ली। अरविंद के साथ उनके सबसे करीबी सहयोगी मनीष सिसोदिया ने उपमुख्यमंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की। उनके अतिरिक्त असीम अहमद खान, संदीप कुमार, सत्येंद्र जैन, गोपाल राय तथा जितेंद्र सिंह तोमर ने मंत्रियों के रूप में पद एवं गोपनीयता की शपथ ग्रहण की।

केजरीवाल की पिछली सरकार में मंत्री रहे सौरभ भारद्वाज, सोमनाथ भारती, राखी बिड़लान और गिरीश सोनी को इस बार मंत्री नहीं बनाया गया है।

केजरीवाल के नेतृत्व में आम आदमी पार्टी ने दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत हासिल किया है। 'आप' ने 70 सीटों में से 67 पर जीत हासिल की है।

केजरीवाल दूसरी बार दिल्ली के मुख्यमंत्री बने हैं। ठीक एक साल पहले उन्होंने 14 फ़रवरी के दिन ही जनलोकपाल के मुद्दे पर मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया था। दिसंबर 2013 में मिली जीत के बाद वे कांग्रेस के समर्थन से 49 दिनों तक दिल्ली के मुख्यमंत्री रहे थे।

अरविंद केजरीवाल का जीवन परिचय

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने पास कोई विभाग नहीं रखा है। सरकार में डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया वित्त, राजस्व तथा शिक्षा मंत्रालय भी संभालेंगे। जितेंद्र सिंह तोमर को गृह तथा कानून मंत्रालयों की ज़िम्मेदारी दी गयी है। गोपाल राय परिवहन, ग्रामीण, रोजगार तथा श्रम मंत्री होंगे। संदीप कुमार के जिम्मे महिला व बाल कल्याण एवं अनुसूचित जाति तथा जनजाति विभाग रहेंगे, जबकि स्वास्थ्य, बिजली और पीडब्ल्यूडी मंत्रालय की बागडोर सतेंद्र जैन संभालेंगे। खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति का जिम्मा असीम अहमद खान को दिया गया।

दिल्ली के मुख्यमंत्री वर्ष 1952 से अबतक

अरविंद केजरीवाल ने भारतीय क्रिकेट टीम को भी आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2015 में जीत के लिए शुभकामनाएं भी दीं।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *