मध्यप्रदेश सामान्य ज्ञान - सार संग्रह

विगत वर्षों की प्रवेश व सरकारी प्रतियोगिता परीक्षाओं में पूछे गए मध्य प्रदेश सामान्य ज्ञान के प्रश्नों का सार संग्रह–
– 1 नवम्बर, 1956 को मध्य प्रदेश की स्थापना की गई, गठन के समय मध्य प्रदेश में 43 जिले थे।
– विभाजन से पहले मध्य प्रदेश में 12 सम्भाग एवं 61 जिले थे।
– विभाजन के पश्चात् मध्य प्रदेश में 45 जिले एवं 9 सम्भाग शेष रह गए।
– वर्तमान मध्य प्रदेश का कुल क्षेत्रफल 3,08,244 वर्ग किमी है जो देश के कुल क्षेत्रफल का 9.38% है।
– वर्तमान मध्य प्रदेश में कुल 51 जिले एवं 10 सम्भाग हैं।
– मध्य प्रदेश की भौगोलिक सीमा पाँच राज्यों–उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, गुजरात, राजस्थान एवं महाराष्ट्र से मिलती है।
– प्रदेश की सर्वाधिक राजनीतिक सीमा उत्तर प्रदेश (10 जिलों) से और न्यूनतम सीमा गुजरात (वड़ोदरा जिला) से मिलती है।
– प्रदेश का कुल क्षेत्रफल 3,08,244 वर्ग किमी है, जो कि देश के कुल क्षेत्रफल का 9.38% है।
– प्रदेश की पूर्व से पश्चिम लम्बाई 870 किमी है तथा उत्तर से दक्षिण चौड़ाई 605 किमी है।
– राज्य में सर्वाधिक समय तक राज्यपाल रहने वाले व्यक्ति श्री हरि विनायक पाटस्कर हैं और डॉ. बी. पट्टामि सीतारमैया राज्य के पहले एवं सबसे कम समय तक राज्यपाल रहे हैं।
– राज्य में अभी तक तीन बार राष्ट्रपति शासन लग चुका है। जिसमें पहला राष्ट्रपति शासन 30 अप्रैल, 1977 को लगा था।
– वीरेन्द्र कुमार सकलेचा राज्य के प्रथम गैर कांग्रेसी मुख्यमन्त्री बने।
– वर्तमान मध्य प्रदेश की भौगोलिक स्थिति 21°6' उत्तरी अक्षांश से 26°30' उत्तरी अक्षांश तथा 74°9' पूर्वी देशान्तर से 81°48' पूर्वी देशान्तर के मध्य है।
– प्रदेश सरकार ने 1 नवम्बर, 1981 को बारहसिंगा को राज्य पशु तथा ​दूधराज (शाह बुलबुल) को राज्य पक्षी घोषित किया।
– प्रदेश में कुल 46 जनजातियाँ पायी जाती हैं जिसमें सर्वाधिक संख्या में पाई जाने वाली जनजाति गोंड है। जबकि भील जनजाति का जनसंख्या की दृष्टि से प्रदेश में दूसरा स्थान है।
– वन विभाग के अनुसार राज्य में वनों का विस्तार 94,689 वर्ग किमी है।
– मध्य प्रदेश में सबसे अधिक क्षेत्रफल पर साधारण काली मिट्टी पाई जाती है।
– प्रदेश में सर्वाधिक प्रसार वाला समाचार–पत्र दैनिक भास्कर है।
– खण्डवा एवं खरगौन को सफेद सोना (कपास) क्षेत्र कहा जाता है।
– देश की सर्वाधिक परती भूमि मध्य प्रदेश में है।
– राज्य में सर्वाधिक क्षेत्रफल पर सोयाबीन की खेती की जाती है एवं दूसरे स्थान पर गेहूँ उगाया जाता है।
– देश का लगभग 88% सोयाबीन मध्य प्रदेश में पैदा किया जाता है।
– राज्य में 1960 में सर्वप्रथम मण्डी अधिनियम पारित किया गया था।
– राज्य में सहकारी डेयरी विकास कार्यक्रम की शुरुआत 1975 में आनन्द प​द्धति पर की गई थी।
– प्रदेश में कृषि विश्वविद्यालय जबलपुर एवं ग्वालियर में स्थित है।
– विश्वमित्र, विक्रम एवं एकलव्य राज्य के प्रमुख खेल पुरस्कार हैं।
– मध्य प्रदेश बैडमिण्टन एसोसिएशन की स्थापना 1946 में और टेबल टेनिस एसोसिएशन की स्थापना 1957 में जबलपुर में हुई।
– राज्य में सबसे पहली नहर 1923 में बालाघाट जिले, में, वेनगंगा नहर बनाई गई थी।
– तालाबों द्वारा राज्य में सर्वाधिक सिंचाई बालाघाट जिले में की जाती है।
– ग्राम स्वराज व्यवस्था लागू करने वाला प्रथम राज्य मध्य प्रदेश है।
– देश का पहला आपदा प्रबन्धन संस्थान मध्य प्रदेश के भोपाल में स्थित है।
– उज्जैन स्थित सोयाबीन संयन्त्र एशिया का सबसे बड़ा सोयाबीन संयन्त्र है।
– झाबुआ में देश का पहला आदिवासी शोध संचार केन्द्र स्थापित किया गया है।
– शिवपुरी (आयोलघपाटा) में देश का पहला सौर चालित टेलीफोन एक्सचेज स्थापित किया गया है।
– भोपाल की ताजुल मस्जिद देश की सबसे बड़ी मस्जिद है।
– देश में सर्वप्रथम ईको पर्यटन अवॉर्ड देने वाला राज्य मध्य प्रदेश है।
– तेन्दूपत्ता का 1964 में, बाँस का 1973 में और साल बीज का 1975 में राष्ट्रीयकरण किया गया।
– इमारती लकड़ी सर्वाधिक जबलपुर वन क्षेत्र से प्राप्त होती है।
– मध्य प्रदेश को टाइर स्टेट के नाम से भी जाना जाता है।
– देश में राष्ट्रीय उद्यानों एवं अभयारण्यों की संख्या की दृष्टि से मध्य प्रदेश का प्रथम स्थान है।
– मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उ़द्यान कान्हा–किसली राष्ट्रीय उद्यान है, जो मण्डला जिले में 940 वर्ग किमी पर फैला है।
– बाँधवगढ़ राष्ट्रीय उद्यान में शेरों का घनत्व देश में सर्वाधिक है। यहाँ सफेद शेर भी पाए जाते हैं।
– विश्व में उज्जैन एकमात्र स्थान है, जहाँ 21 जून को सूर्य 90° पर लम्वत् होता है।
– पंचायत स्तर पर पंचों एवं सरपंचों को जनता द्वारा हटाने का अधिकार सर्वप्रथम मध्य प्रदेश में दिया गया है।
– प्रदेश का पहला राष्ट्रीय उद्यान कान्हा–किसली को 1955 में घोषित किया गया था।
– 19 जनवरी, 1962 को मध्य प्रदेश राज्य खनिज निगम की स्थापना की गई। इसका मुख्यालय भोपाल में है।
– देश में हीरे के उत्पादन में प्रदेश का प्रथम स्थान है।
– मध्य प्रदेश की सबसे बड़ी नदी नर्मदा है। प्रदेश में इसकी कुल लम्बाई 1077 किमी है।
– वेनगंगा दक्षिणी मध्य प्रदेश की ओर बहने वाली एकमात्र नदी है।
– मध्य प्रदेश का सबसे ऊँचा जलप्रपात चचाई जलप्रपात बीहड़ नदी पर रीवा के निकट स्थित है।
– राज्य की प्रथम विद्युत ​परियोजना गांधी सागर बाँध, चम्बल नदी पर मन्दसौर में बनाई गई थी।
– प्रदेश में सर्वाधिक पवन चक्कियाँ इन्दौर जिले में हैं।
– राज्य में सर्वप्रथम विद्युत का उत्पादन ग्वालियर में 1905 में 240 के. वी. की स्टीम टर्बाइन से किया गया था।
– बेढ़न (सिंगरौली) को प्रदेश की ऊर्जा राजधानी कहा जाता है।
– प्रदेश में जाड़े और गर्मी दोनों ही ऋतुओं में वायुदाब की रेखाएँ पूर्व से पश्चिम की ओर जाती है।
– सम्पूर्ण मध्य प्रदेश में मई का महीना सर्वाधिक गर्म होता है।
– ऋतु सम्बन्धी आँकड़ों को एकत्र करने वाली वेधशाल इन्दौर में स्थित है।
– प्रदेश में ग्रीष्म ऋतु को 'युनाला', वर्षा ऋतु को 'चौमासा' तथा शीत ऋतु को 'सियाला' के नाम से भी जाना जाता है।
– राज्य का पहला ग्राम न्यायालय नीमच जिले के जावद जनपद के झान्तला ग्राम पंचायत में शुरू किया गया था।
– प्रदेश का एकमात्र हिल स्टेशन पचमढ़ी सतपुड़ा पर्वत की महादेव श्रेणी पर स्थित है।
– भारत का प्रथम पर्यटन नगर शिवपुरी को घोषित किया गया है।
– देश का पहला ऑप्टीकल फाइबर का कारखाना मध्य प्रदेश के मण्डीदीप में स्थापित हुआ।
– सर्वप्रथम मानवाधिकार आयोग मध्य प्रदेश में गठित किया गया।

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *