रेल बजट 2015-16 की खास घोषणाएं

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने 26 फरवरी, 2015 को संसद में 2015-16 के लिए अपना पहला रेल बजट पेश किया। इसमें उन्होंने यात्रियों पर कोई बोझ नहीं बढ़ाया और न ही किराए में काई बढ़ोतरी की, लेकिन नई ट्रेनों की भी घोषणा नहीं की गई। रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने रेल बजट में यात्री सुविधाएं को और बढ़ाने पर जोर दिया।

रेल बजट 2015-16 की खास घोषणाएं इस प्रकार है–
- रेल बजट में यात्री किराये में कोई बढ़ोत्तरी नही की गई
- वित्त वर्ष 2016 में रेलवे की क्षमता बढ़ाने के लिए 96,182 करोड़ रुपये खर्च किए जाएंगे
- ट्रेनों और प्लेटफॉर्म की सफाई के लिए अलग से स्वच्छता विभाग बनाने की योजना
- 650 रेलवे स्टेशनों पर 17 हजार नए टायलेट बनाए जाएंगे
- यात्रियों की शिकायतों के लिए नया हेल्पलाइन नंबर 138 और सुरक्षा के लिए नंबर 182 जारी किया जाएगा
- 108 गाडि़यों में ई-कैटरिंग सुविधा उपलब्ध कराने का संकल्प
- महिलाओं की सुरक्षा के लिए सीसीटीवी कैमरा लगाए जाएंगे
- अशक्त लोगों के लिए व्हील चेयर भी ऑनलाइन बुक कराने की सुविधा देने का प्रस्ताव
- लोकल टिकट वेंडिंग मशीन की संख्या बढ़ाने के साथ वॉटर वेंडिंग मशीन भी लगाने का प्रस्ताव
- देश के 400 प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर मुफ्त वाई-फाई की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी
- यात्री अब 60 दिन की जगह 120 दिन पहले अपनी टिकट बुक करा सकेंगे
- 10 स्टेशनों पर सेटेलाइट सुविधा उपलब्ध कराने की घोषणा
- नौ रेल मार्गों पर 160 से 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से ट्रेन चलाने की घोषणा
- मानव रहित 3438 फाटक खत्म होंगे, बिना गार्ड वाले फाटक पर अब अलार्म बजेगा
- रेलवे में नौकरी के लिए आवेदन ऑनलाइन किया जायेगा
- स्टेशन और गाड़ियों को कंपनियों के नाम दिये जाएंगे, कंपनियों को इसके लिए रेलवे को पैसा देना होगा
- इसी वर्ष दुर्घटनाओं को रोकने के लिए एक्शन प्लान लागू किया जाएगा
- जनरल बोगियों में भी मोबाइल चार्ज की सुविधा देने के साथ स्लीपर में चार्जिंग प्वाइंट बढाए जाएंगे
- अब सेना जवानों को टिकट के लिए वारंट दिखाने की जरूरत नहीं होगी
- कई भारतीय भाषाओं में ई-टिकट पोर्टल शुरू किए जाएंगे
- बिना रिजर्वेशन वाली टिकटों के लिए 'ऑपरेशन 5 मिनट' शुरू किया जाएगा, जिसमें 5 मिनट पहले टिकट लिया जा सकता है
- उत्तर-पूर्व को भी दिल्ली से जोड़ने के लिए ट्रेन चलाने की घोषणा
- अगले पांच वर्षों में रेलवे में 8.50 लाख करोड़ रुपये के निवेश का लक्ष्य
- रेल की दैनिक यात्रा परिवहन क्षमता को 2.1 करोड़ से बढ़कर 3 करोड़ करने की योजना
- गाडि़यों को तेज चलाने जिससे यात्रियों का 20 प्रतिशत समय बचेगा की योजना
- माल ढुलाई क्षमता को बेहतर कर और इसे बढ़ाया जाएगा
- आईआरसीटीसी वेबसाइट पर पसंदीदा खाना ऑनलाइन बुक कराने की सुविधा
- रेलवे की हालत सुधाने के लिए सांसद निधि से भी पैसा लिया जाएगा
- बड़े स्टेशनों पर लिफ्ट और एस्केलेटर लगाने के लिए 120 करोड़ रुपये का प्रावधान
- कागज रहित (पेपरलेस) टिकटिंग सुविधा शुरू करने का प्रस्ताव
- बहु-भाषा ई-टिकटिंग सिस्टम शुरू किया जाएगा
- रेलवे की ढुलाई क्षमता को एक अरब टन से बढाकर 1.5 अरब टन किया जाएगा
- रेलवे की यात्री क्षमता 21 मिलियन से बढ़ाकर 30 मिलियन करने का लक्ष्य
- ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाने, पटरियों को चौड़ा करना और विद्युतीकरण मुख्य फोकस
- नई ट्रेनों का एलान अभी नहीं होगा, समीक्षा के बाद नई ट्रेनों का एलान होगा

Loading...

Comments & Contact Form

Name

Email *

Message *